पंकज उधास

बॉलीवुड स्टार्स बर्थडेस

हैप्पी बर्थडे पंकज उधास

भारत के जाने-माने गजल गायक पंकज उधास का जन्म 17 मई 1951 गुजरात में राजकोट के पास जैतपुर के एक बीयर बनाने वाले परिवार में हुआ था।उनके पिता का नाम केशूभाई उधास और माँ का नाम जीतूबेन उधास है।वे तीन भाइयों में सबसे छोटे हैं।ये तीनो ही मशहूर गजल गायक हैं ।पंकज उदास ने सर बीपीटीआई भावनगर से शिक्षा प्राप्त की थी। उसके बाद उनका परिवार मुम्बई आ गया और पंकज ने वहाँ के सेंट जेवियर्स कॉलेज में पढ़ाई की।पंकज उधास की शादी फरीदा से हुई है और इनकी दो बेटियां भी हैं जिनका नाम नायाब और रेवा है ।

भारतीय संगीत उद्योग में उनको तलत अजीज और जगजीत सिंह की श्रेणी में गिना जाता है। पंकज उधास के बड़े भाई मनहर रंगमंच के एक अभिनेता थे, जिसकी वजह से पंकज संगीत के संपर्क में आये। रंगमंच पर उनका पहला प्रदर्शन भारत-चीन युद्ध के दौरान हुआ जिसमें उन्होंने “ऐ मेरे वतन के लोगों” गाया जिसके लिए एक दर्शक द्वारा उनको पुरस्कार स्वरूप 51 रुपये का इनाम भी दिया गया। चार साल बाद वे राजकोट की शराबी नाट्य अकादमी में भर्ती हो गए और तबला बजाने की बारीकियों को सीखा। वो अपने कॉलेज के पडाहै के दौरान समय निकालकर गायन का अभ्यास करते रहे उधास ने पहली बार 1972 की फिल्म ‘कामना’ में अपनी आवाज दी जो कि एक असफल फिल्म रही थी। पंकज को फिल्म ‘नाम’ में गायकी से प्रसिद्धि मिली, जिसमें उनका एक गीत ‘चिट्ठी आई है’ काफी लोकप्रिय हुआ था। उसके बाद से उन्होंने कई फिल्मों में पार्श्वगायकी की उन्होंने कई एल्बम भी रिकाॅर्ड किये हैं उनका पहली ग़ज़ल एल्बम आहट 1980 में रिलीज़ हुआ था। यहाँ से उन्हें सफलता मिलनी शुरू हो गयी और 2009 तक वे 40 एल्बम रिलीज़ कर चुके हैं। उनकी अब तक की कुछ अल्बम्स हैं -आहट (1980), मुक़र्रर,तर्रन्नुम,नबील, नायाब, शगुफ्ता, अमन, महफ़िल, राजुअत (गुजराती), बैसाखी (पंजाबी), गीतनुमा, याद, स्टॉलेन मूवमेंट्स, कभी आँसू कभी खुशबू कभी नाघुमा, हमनशीं, आफरीन, वो लड़की याद आती है, रुबाई, महक, घूंघट, मुस्कान, इन सर्च ऑफ मीर (2003), हसरत, भालोबाशा (बंगाली), एंडलेस लव, यारा – उस्ताद अमजद अली खान का संगीत, शब्द – वैभव सक्सेना और गुंजन झा का संगीत, शायर (2010),बर्बाद मोहब्बत , नशीला , सेंटीमेंटल 2013  , ख़ामोशी की आवाज़ 2014  आदि।